Malaria (मलेरिया) क्या है? What is Malaria in Hindi

यह एक प्रकार का पीड़ादायक खतरनाक बुखार है जो मादा एनाफिलीज मच्छर के काटने से होता है यह मच्छर बरसात के मौसम में अधिक होते हैं क्योंकि बारिश के पानी अधिक दिन तक जमा रहते हैं और यह पानी गंदे वह दूषित हो जाते हैं यहीं से मलेरिया मच्छर की उत्पत्ति होती है यह किसी भी उम्र वालों को हो सकता है लेकिन ज्यादातर इसका शिकार गंदगी में रहने वाले लोग ही होते हैं इसमें लीवर और आत दोनों प्रभावित होता है काफी ठिठुरन और ठंड के साथ तेज बुखार किसकी मुख्य पहचान है मादा एनाफिलीज मच्छर के जीवाणु जब व्यक्ति के रक्त में प्रवेश करता है तो उसकी कोशिकाओं को प्रभावित करता है और वह व्यक्ति अस्वस्थ हो जाता है।

Etiolog :
मलेरिया बुखार का मुख्य कारण मादा एनाफिलीज मच्छर द्वारा काटना है जब यह मच्छर काटती है तो अपने लारवा के माध्यम से plasmodium vivad और plasmodium Falciparum प्रोटोजोआ शरीर में छोड़ देता है जो देखते ही देखते पूरे शरीर में फैल जाता है और Liver को प्रभावित कर देता है। Plasmodium Falciparum सबसे ज्यादा खतरनाक है इसमें व्यक्ति की मौत भी हो जाती है। कभी-कभी यह बीमारी संक्रामक के द्वारा भी फैल जाता है। इस तरह की मरीज के साथ सोना, उसका जूठन खाना भी मलेरिया का कारण हो सकता है।

Symptoms :
ठंड और ठिठुरन के साथ तेज बुखार आना। पूरे शरीर के साथ सिर में काफी दर्द होना। भूख ना लगना। काफी कमजोर हो जाना और चक्कर आना।

Manegement :
मलेरिया रोग से बचने के लिए घर एवं आसपास की सफाई बहुत जरूरी है बीच-बीच में किरोसीन , DDT एवं ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी बहुत जरूरी है मलेरिया हो जाने पर तत्काल डॉक्टर से मिलकर रिसोचीन दवा का प्रयोग करना चाहिए और अपनी व्यवस्था अलग कर लेनी चाहिए। लगातार अच्छी दवा का सेवन करने से यह बीमारी पूरी तरह ठीक हो जाती है अन्यथा रोगी की हालत और गंभीर हो जाती है।

Leave a Comment