Filaria (फाइलेरिया) / Elephantiasis क्या है? What is Filaria in Hindi? hathi paw disease in hindi

Introduction :
यह क्रीमी से होने वाला एक ऐसा तकलीफ देह बीमारी है जो अधिकतर पैरों में होता है यह संक्रामक छुआछूत या अनुवांशिक रोग नहीं है यह प्रायः अधेड़ अथवा बूढ़े लोगों को होता है यह संभवत: लाइलाज बीमारी है अत: इससे बचना है मुनासिब होता है।

Etiology :
यह बीमारी Female Q- Lex मच्छर के काटने से होता है जब इस प्रकार के मच्छर लगातार किसी व्यक्ति को काटते रहती है तो व्यक्ति के शरीर में करवा के माध्यम से Wuchereria bancrofti नामक कृमि का शरीर में फैलाव हो जाता है जिससे व्यक्ति Filaria/ Elephantiasis बीमारी से ग्रसित हो जाता है इस बीमारी में पैर गोल स्तंभ की तरह हाथी के पैर के समान हो जाता है इसलिए इसे हाथीपांव भी कहा जाता है।

Symptoms :
Filaria में सबसे पहले पैर में सूजन हो जाता है वह दूसरे पैर से काफ़ी मोटा और भारी-भरकम हो जाता है पैर में उंगली दबाने पर गड्ढा बन जाता है जो फिर ठीक हो जाता है पुरुषों के Testis में भी सूजन आ जाती है और महिलाओं के उधर मोटा और थुलथुला हो जाता है महिला के वजन में वृद्धि हो जाती है।

Manegement :
वैसे तो या बीमारी लाइलाज है परंतु पहले ही इससे बचा जा सकता है घर, बिस्तर ,शौचालय एवं नालियों को नियमित रूप से साफ सफाई करते रहना चाहिए और उसमे किरोसीन तेल, D.D.T तथा ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव करते रहना चाहिए । आसपास गोबर जमा ना हो, और सभी तरह के मच्छरों को भगाकर रखें । बीच-बीच में Albendazol का टेबलेट, कैप्सूल अथवा सिरप का प्रयोग करते रहना चाहिए । हमेशा मच्छरदानी का प्रयोग करना चाहिए।

Leave a Comment