Cholera कॉलरा ( हैजा ) क्या है ? What is Cholera in hindi?

Introduction :
Vibrio cholerae नामक bacteria  से होने वाला ऐसा खतरनाक बीमारी जो शरीर में प्रवेश करते ही, ऐसा रोग उत्पन्न करता है की मरीज को बार-बार उल्टी और दस्त होने लगता है व्यक्ति के शरीर से अधिक मात्रा में पानी निकलने लगता है कॉलरा कहलाता है। यह बीमारी किसी भी उम्र वालों को हो सकता है परंतु ज्यादातर इसका शिकार बच्चे होते हैं उचित इलाज कराने पर यह बीमारी पूरी तरह से 3 से 4 दिनों में ठीक हो जाती है अन्यथा प्रत्येक वर्ष 4 करोड़ बच्चे कॉलरा से मरते हैं।

Etiology :
कॉलरा होने का मुख्य कारण निम्नलिखित है।
दूषित भोजन एवं दूषित जल का सेवन करना। ज्यादा मसालेदार गरिष्ठ भोजन और तेल मसाले वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना। संक्रमित व्यक्ति के साथ रहना। अत्यधिक मात्रा में बाजारों में बिकने वाले छोटे स्टॉल की खाद्य पदार्थों का सेवन करने से कॉलरा हो सकता है।

Symptoms :
इस रोग में बच्चा या व्यक्ति बार-बार उल्टी और दस्त करता है। मरीज की होठ बार-बार सूखता है और वह पानी मांगता है। आंखों के नीचे काले धब्बे हो जाते हैं। व्यक्ति के शरीर में ऐठन होने लगती है और नाडी की चाल मंद हो जाती है।

Manegement :
कॉलरा वाले मरीज को तत्काल अस्पताल पहुंचाकर saline करवाना चाहिए। खाने के लिए सुपाच्य भोजन जैसे- मूंग दाल की खिचड़ी, सूप, छाछ तथा मरीज द्वारा पानी मांगने पर ORS का घोल, ग्लूकोज या नमक, नींबू, चीनी का घोल देना चाहिए। जहां- तहां उल्टी पैखाना ना करवाकर सुनिश्चित जगह पर ही करवाना चाहिए ताकि उसे पानी से साफ किया जा सके और दूसरा व्यक्ति इससे ग्रसित ना हो जाए। मरीज का समय पर इलाज न करवाने से उसका बुरा हाल हो जाता है। 

Leave a Comment