इंटरनेट क्या है।

server room

internet kya hai

आप सिंपल वर्ड्स में इंटरनेट को मकड़ी का जाल कह  सकते है। यहाँ जाल तारो का बना है। वह हर तरफ फैला है। इंटरनेट टेलीफोन के तार से डाटा भेजता है. और वापस पता है।

डाटा किसे कहते है ?

आप सोच रहे होंगे की डाटा क्या है तो मैं आपको सिंपल वर्ड्स में बताता हु। डाटा हर वो चीज़ है जो हम क्रिएट करते है कंप्यूटर पर। कल हमारे साथ क्या हुआ था ये हमे याद रहता है कभी आपने सोचा की हमे कैसे याद रहता है ? चलिए मै आपको बताता हु। कल हमारे साथ जो भी घटना हुए थी वो हमारे दिमाग में स्टोर हो  गया था. हमारा दिमाग उस घटना को एक मूवी की तरह बना कर अपने पास रख लिए। उस घटना का जो भी प्रकार है जैसे कोई इंसान, उसकी आवाज , उसका तस्वीर , उसका  बोलने का तरीका ये सब कुछ हमारे दिमाग में स्टोर हो जाता है। इसे ही हम डाटा कहते है। जो स्टोर होता है वो डाटा है।

ठीक हमारे दिमाग की तरह कंप्यूटर भी डाटा स्टोर करता है। आपने कोई लेख लिखा , किसी को ईमेल भेजा, किसी की तस्वीर देखि , कोई वीडियो देखा ये सब डाटा है जो सर्वर में स्टोर होता है।

सर्वर क्या होता है।

सर्वर हमारे दिमाग की तरह है लेकिन उसका काम दिमाग चलना नहीं बल्कि डाटा को स्टोर करना होता है। सर्वर दिमाग भी चलता है वैसे हर समय नहीं। अगर कोई डाटा वापस देखना चाहे तो सर्वर उस डाटा को जिस कंप्यूटर से डाटा देखने का रेकुएस्ट आ रहा वह भेज देता है। एक उदाहरण देता हु आपको जैसे की मन लीजिये कोई हिंदी न्यूज़ का वेबसाइट है जैसे हिंदुस्तान , प्रभात खबर।  अगर इस वेबसाइट को कोई भी कही से देखना चाहे तो वो देख सकता है। अब पूछिए कैसे. तो मै आपको बताता हु.

हिंदुस्तान और प्रभात खबर जैसे वेबसाइट का डाटा सर्वर पर स्टोर होता है। सर्वर को आप इंटरनेट का दिमाग भी कह सकते है। वह सब स्टोर करता  है।

जब भी कोई हिंदुस्तान टाइम्स का इ पेपर पढ़ने के वेबसाइट खोलता है जैसे hindustantimes.com  तो ये रेकुएस्ट उस सर्वर के पास चली जाती है जो इस वेबसाइट को स्टोर किया है। अब सर्वर वेबसाइट का डाटा वापस उस आदमी के कंप्यूटर पर भेज देता है जो पढ़ने के लिए रिक्वेस्ट किया है।

आसान शब्दों में इसी को हम इंटरनेट बोलते है। यहाँ हर एक कंप्यूटर टेलीफोन लाइन से कनेक्ट है और डाटा का आदान प्रदान हो रहा है हर समय।

इंटरनेट की तारे समुद्र के अंदर से होकर दूसरे देश  में भी जाती है। इंटरनेट पर हर  एक कंप्यूटर या मोबाइल का IP एड्रेस होता है। IP एड्रेस को आप फ़ोन नंबर की तरह समझ सकते है। जब हम हिंदुस्तान की वेबसाइट को रिक्वेस्ट करते है तो उसका IP एड्रेस 52.74.17.139 पर कॉल होता है।  तो हम कह सकते है की एक तरह से हम इस IP एड्रेस को कॉल कर रहे है तो वो हमारी बाते सुनकर हिंदुस्तान की वेबसाइट को आपके कंप्यूटर पर भेज दे रहा है।

हर एक डिजिटल डिवाइस जो इंटरनेट से जुड़ सकता है उसका IP एड्रेस होता है।

हमारा कंप्यूटर सर्वर नहीं है क्यों की हम इंटरनेट से डायरेक्ट नहीं जुड़े है।  बल्कि हम ISP से जुड़े है ISP का मतलब इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर। जो हमे इंटरनेट देता है। JIO , Airtel ये सब ISP प्रोवाइडर हैं

ISP इंटरनट से डायरेक्ट जुड़े होते है और किस देश में कौन सा वेबसाइट अल्लोव करना है और कौन सा बंद करना है ये निर्णय लेते है सरकार के हिसाब से।

रानी पद्मिनी कौन थी।

rani padmini
चित्तौरगढ़ किला, राजस्थान, भारत
चित्तौरगढ़ किला, राजस्थान, भारत

रानी मद्मिनी मेवाड़ ( अब का राजस्थान ) की रानी थी। उन्हें रानी पद्मावती के नाम से भी जाना जाता है। ये कहानी 14 सेंचुरी की है। कहा जाता है की रानी पद्मिनी अपने खूबसूरती के लिए बहोत  प्रसिद्ध थीं। उस समय दिल्ली का सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी था जो रानी पद्मावती को पाना चाहता था।

अलाउद्दीन ने चित्तोर गढ़ पर जब पहली बार हमला किया तो वह नाकाम रहा लेकिन उसने किले को घेर लिया और अपने सैनिक नहीं हटाया। उसने एक शर्त रखी की अगर रानी को वो आमने सामने देख लेता है तो वो अपनी सेना हटा लेगा। रानी ने खिलजी की बाते मन ली लेकिन खिलजी रानी को आमने सामने नहीं देख पाया उसे रानी को शीशे में देखना पड़ा क्यों की उस समय राजपूत रानी गैर मर्द के सामने नहीं आती थी।

रानी को शीशे में देखकर खिलजी का मन और भी बढ़ गया। वो रानी को पाने के लिए और भी बेचैन हो गया। उसने रानी पद्मिनी के पति को कैद कर लिया ट्रिक खेल कर।

राजपूतो ने भी ट्रिक खेला उन्होंने खिलजी को बोला की हम रानी को सौप रहे हैं आप हमे अपना राजा वापस कर दो, लेकिन उन्होंने रानी को नहीं भेजा बल्कि पालकी में सैनिको को बैठाकर भेज दिया। फिर सैनिको ने खिलजी से अपने राजा छुड़ा कर वापस ले आये।

इसे देखकर खिलजी ने फिर महल की घेरा बंदी कर दी और लोग महल से आ जा नहीं सकते थे। अंतिम में लड़ाई हुआ और राजा मारा गया।

पद्मनी और अन्य स्त्रियों ने हार देख कर जोहर कर लिया। जोहर एक हिन्दू परम्परा थी जिसमे अगर रानी का राजा मारा गया युद्ध में, तो वे खुद को आग में शहीद कर देती थी। महल की राजपूत स्त्रियाँ खुद को दुसमन के हवाले करने से अच्छा मरना पसंद करती थी.

चित्तौरगढ़ किला (15 वीं सताब्दी ) में जीत के विजयी (विजया स्तम्भ) चित्तोंगढ़, भारत
चित्तौरगढ़ किला (15 वीं सताब्दी ) में जीत के विजयी (विजया स्तम्भ) चित्तोंगढ़, भारत

आइये रानी के बारे में थोड़ा और जान ले

रानी पद्मिनी गन्धर्व सेन की बेटी थी। गन्धर्व सेन सिंहला राज्य के राजा थे। सिंहला राज्य अभी श्री लंका है । रानी पद्मिनी के खूबसूरती के बारे में सुनकर चित्तोड़ गढ़ के राजा रतन सिम्हा सिंहला राज्य के स्वयम्बर में पहुच गए. और रानी को जित कर चित्तोर ले आये। कहा जाता है की रानी के बारे में उन्होंने एक तोता हिरामन से सुना था। हिरामन रानी का तोता था। गन्धर्व सेन को हिरामन और रानी की नजदीकियां अच्छी नहीं लगती थी। इसलिए गन्धर्व सेन ने हिरामन को मारने को बोल दिया लिए हिरामन तोता बच के भाग गया। उसको बाद में एक बहेलिये ने पकड़ लिया और बहेलिये ने एक ब्राह्मण को बेच दिया ब्राह्मण उससे चित्तोर लेकर आया जहा रतन सिंह ने उससे खरीद लिया. ये तोता बहोत बोलता था. और हमेशा रानी की खूबसूरती के बारे में बाते करता था.

हलाकि आपको ये बता दे की पद्मावती की बहोत कहानिया है। ये कहानी मालिक मुह्हमद जैसी ने १५ शताब्दी में लिखी थी। और भी लेखक है जो अपना अलग अलग व्यू रखते हैं

अपने जिंदगी को बेहतर बनाने के 5 तरीके 

happy women

1. वही करे जिसमे आपका मन लगता हो और जो आपके लिए सही है

हम कभी – कभी ऐसे कामो में लग जाते है जिसमे हमारा मन नहीं लगता है,  और सिर्फ पैसे कमाने  के लिए लगे रहते हैं।  पैसा कामना सही है लेकिन पैसे उन चीज़ो से भी कमाया जा सकता है जिसको करना हमे अच्छा लगता है।   सोच समझ कर कोई भी काम सुरु करे।  ये पहले पता लगा ले की आप जो करने जा रहे है उसमे आपका मन लगेगा की नहीं और  वो काम आपके लिए सही है या नहीं।

 

good food

2. वही खाये जो आपके स्वास्थ के लिए अच्छा हो।

आज कल की तेज जिंदगी में हम कुछ भी खा लेते है बिना सोचे समझे की वो चीज़ हमारे स्वस्थ के लिए अच्छा है या ख़राब। खाने पर कण्ट्रोल करना जरूरी है क्यों की हमारा दिमाग और शरीर वैसा ही हो जाता है जैसा हम भोजन करते हैं।

 

happy friends

3. दोस्ती कम और अच्छे लोगो से रखे।

जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए  ज्यादा जरूरी कोई चीज़ है तो वो है आपकी वातावरण , माहौल जिसके बिच आप रहते हैं। अच्छे दोस्त और कम दोस्त वाला फार्मूला अपना ले बाकि बेकार लोगो से दुरी बना कर  रखे। गलत और सही में फर्क करना सिख ले।  जो गलत है वो गलत ही रहेगा और जो सही है वो सही ही रहेगा।

 

sexy girl

4. दिखवाए की जिंदगी जीना बंद कर दे।

दिखावे की जिंदगी बहोत ही कृत्रिम होती है। दिखावे में न जाये।  कोई भी काम दिखावे करने के लिए न करे।  आज कल की दुनिया में लोग हर काम दिखावे के लिए कर रहे है। दुसरो को निचा दिखा कर आपको कुछ हासिल नहीं होगा। लक्ज़री वस्तुवो का उपयोग दिखावे के लिए न करे।

 

young business women

5. अपना समय महत्वपूर्ण चीज़ो में लगाए जो ज्यादा जरूरी हो।

समय बलवान है और मूल्यवान भी है इसलिए हमे इसका उपयोग बहोत ही सोच समझ कर करना चाहिए।  समय को उन्ही कार्यो में लगाए जो सबसे ज्यादा जरूरी है।  हर चीज़ को कल पर छोड़ने की आदत ना डाले। जो करना है अभी सुरु करे

जिंदगी में सबसे जरूरी कौन कौन सी चीज़े हैं

look at god

yoga girl sitting

स्वास्थ

सबसे ज्यादा जरूरी अगर कोई चीज़ है तो वो है आपकी स्वास्थ क्यों की स्वस्थ है तो आप है, अच्छे स्वास्थ के लिए हमें अच्छा खाना पड़ेगा , खाना वही अच्छा है जो स्वास्थ के लिए अच्छा है। हम भारतीय लोग कुछ भी खा लेते है लेकिन हमे इसपर ध्यान देना पड़ेगा, खाने को ऐसा बनिये जिसमे हर प्रकार के विटामिन और मिनिरल्स हो। हमारे शरीर के लिए प्रोटीन बहोत जरूरी है। दाल खूब खाये , सोयाबीन का सब्जी खाये। अगर आप मांसाहारी है तो अछि खबर है मांस में प्रोटीन बहोत होता है। अच्छे स्वास्थ के लिए भरपूर नींद ले।

 

family sitting in garden

परिवार

दूसरा सबसे जरूरी चीज़ अगर इस दुनिया में कुछ है तो वो आपके माँ बाप , भाई बहन है , माँ और बाप ज्यादा जरूरी है क्यों की उन्होंने ही आपको इस दुनिया में लाया। और सिर्फ लेकर चोर नहीं दिया बल्कि आपको पाला पोसा और बड़ा किया। बोला जाता है की माँ बाप का कर्ज हम इस जिंदगी में नहीं उतार सकते। अगर आपके माँ बाप बूढ़े है तो उन्हें आपकी ज्यादा जरूरत है। उनके हमेशा और उनका ख्याल रखिये क्यों की एक दिन आपके साथ भी ऐसा होने वाला है जब आपके बच्चे होने और आप बूढ़े हो जायेंगे। कर्म का फल इसी जिंदगी में मिलता है और जो बच जाता है वो अगले जनम में मिलता है।

 

all you need is love

प्यार

प्यार के बिना हमारा जिंदगी अधूरा है। प्यार बहोत तरह के होते हैं जैसे प्रेमिका का प्यार , भाई बहन का प्यार, माँ बाप का प्यार, दोस्तों का प्यार। जब हमे प्यार मिलता है तो हम खुश रहते है और हमारी आयु बढ़ती है।

 

thinking about study

शिक्षा

शिक्षा भी उतना ही जरूरी है जितना भोजन। बिना शिक्षा के हम इस दुनिया में जानवर बन कर रह जायेंगे हम्मे और जानवरो में कोई फर्क नहीं रह जायेगा इस लिए शिक्षा जरूरी है।

 

look at god

भगवान

जब हमारी ऊपर की सारी कामनाये पूरी हो जाती है तो हमें अंत में भगवन की याद आती है और आये भी क्यों ना भगवन ने जो हमे बनाया है। ये साडी लीला भगवन की ही है। हम बस एक मोहरे है इस खेल के। लेकिन हमे मायूस नहीं होना चाहिए क्यों की हम भी उस भगवन के अंश हैं। हमे न कोई मार सकता है और न कोई जला सकता है हम सब आत्मन हैं। ये जानने की इच्छा जरूर करनी चाहिए की ये हवा पानी , दुनिया , ब्रह्माण्ड ये सब कहा से आया किसने बनाया तब शायद हम भगवन के थोड़े करीब हो पाए। हम इंसान कितना भी विकसित क्यों न हो जाये लेकिन भगवन की बनायीं हुए कृति जैसा कभी कुछ नहीं कर पाएंगे क्यों की हमे भी उसी ने बनाया है और आज तक हम खुद को भी नहीं जान पाए है।

Some ways to stay original

be awesome

Everyone is born with different faces, characteristics and qualities. It is always a good idea to stick to our roots. …

Read

What are black holes?

Black hole over star field

The more you get to know about space, the more knowledgable you feel. It is scary that most people know …

Read

Planets in Our Solar System

Mars Facts Mars Planet Profile Radius – 3,390 kmGravity – 3.711 m/s² Mass: 6.39 × 10^23 kg (0.107 M⊕) Moons: Deimos, Phobos Surface …

Read