Memory (मेमोरी) क्या होता है ?

मेमोरी कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण फंक्शन होता है। जहां सभी डाटा और जानकारी बायनरी अंको के रूप में संग्रहित रहती है। मेमोरी एक कंप्यूटर सिस्टम है जो डाटा और निर्देशों के प्रोसेसिंग के बाद फिर से प्राप्त करने के लिए जरूरी होती है। कंप्यूटर सिस्टम ही डाटा को संग्रहित करने के लिए विभिन्न प्रकार के उपकरणों का उपयोग करता है जो इसके संचालन के लिए जरूरी है आमतौर पर तो हम कंप्यूटर के 2 मूल श्रेणियों में वर्गीकरण करते हैं। मेमोरी के मुख्य दो कार्य है।

जैसे हम लोगो को कुछ याद रखने के लिए या दुसरे किसी काम के लिए Memory की जरुरत होती है ठीक वैसे ही Computer हो या कोई दूसरा device उन्हें भी ठीक से operate होने के लिए Memory की बहुत आवश्यकता होती है।

लेकिन इसमें समझने वाली बात यह है की Memory के बहुत सारे अलग अलग प्रकार होते हैं, जिनका functions भी भिन्न होता है। ऐसे में इन सभी के बारे में हम सभी को जानना बहुत ही जरुरी होता है। ताकि हम अपने जरुरत के मुताबिक उनका सही तरह से उपयोग कर सकें।

इसलिए हमने सोचा की कंप्यूटर memory के बारे में आप लोगो के सभी डाउट इस article के जरिए clear किया जाए। तो आइए जानते हैं की कंप्यूटर की सबसे तेज मेमोरी क्या है और यह कितने प्रकार के होते हैं।

memory एक व्यक्ति के दिमाग की तरह ही काम करता है। इसका उपयोग data और instructions को store करने के लिए होता है। computer में Computer memory एक ऐसा storage space है , जहाँ की data जिसे की process किया जाता है और instructions जो की processing के लिए चाहिए वो वहां पर store किए जाते हैं।

Computer memory को बहुत से number के small parts में divide किया जाता है जिसे cells कहा जाता है। हर एक location या cell की एक unique address होती है, जो की varies करती है zero से memory size minus one। उदाहरण के तौर पर, अगर आपके computer में 64k words हैं, तब इस memory unit में 64 * 1024 = 65536 memory locations होते हैं। इस memory loacations की address varies करती है 0 से 65535

Memory किसी भी Computer की बहुत ही essential हिस्सा होता है। क्यूंकि इसके बिना कम्प्यूटर एक simple task भी नहीं कर सकता है कम्प्यूटर मेमोरी के दो बेसिक टाइप होते हैं –

* Primary memory/Volatile memory.

* Secondary memory/non-volatile memory.

कंप्यूटर मेमोरी के प्रकार

Computer Memory के प्रकार को लेकर ज्यादातर लोगो को जानकारी नही होती। मुख्य रूप से Computer Memory के तीन प्रकार होते हैं।

Memory की primarily तीन प्रकार के होते है।

  • Cache Memory.
  • Primary Memory/Main Memory.
  • Secondary Memory.

Cache Memory

Cache memory कंप्यूटर की सबसे तेज मेमोरी है। Cache memory एक बहुत ही high speed semiconductor memory है जो की CPU को speed up कर देती है। ये एक buffer के तरह act करती है CPU और main memory के बीच इनका उपयोग data और program के उन हिस्सो को hold करने के लिए उपयोग होता है जिन्हें की CPU के द्वारा frequently उपयोग किया जाता है।

Primary Memory (Main Memory)

Primary memory सिर्फ वही data और instructions को hold करती है, जिसमें की computer अभी काम कर रहा हो।

इसमें बहुत ही limited capacity होती है और data इसमें lost हो जाता है। जब power को switched off कर दिया जाए तो यह generally semiconductor device से बना हुआ होता है।

Secondary Memory

Secondary Memory Computer Memory की तीसरी और आखिरी memory होती है। इस प्रकार की memory को external memory या non-volatile memory भी कहा जाता है। यह main memory की तुलना में बहुत ही slower होती है। इसका मुख्य उपयोग data या information को permanently store करने के लिए किया जाता है।

यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके बताना ना भूले अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो इस पोस्ट को लाइक करें और ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *