बादाम का वैज्ञानिक नाम Prunus Dulsis है , इसे अमेरिका, इटली , स्पेन , सीरिया और ईरान में उगाया जाता है।  बादाम में MUFA ( Monounsaturated Fatty Acids), विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं। बादाम विटामिन इ और मैंगनीज के अच्छे स्रोत हैं।  बादाम में प्रोटीन की मात्रा काफी अच्छी होती है। प्रोटीन हमारे शरीर के लिए अति आवश्यक है।  इससे हमारी माँसपेशिओ  का निर्माण होता है।

बादाम में फेनोलिक्स  काफी मात्र में पाया जाता है। फेनोलिक्स Antioxidants ( एंटी ऑक्सीडेंट्स ) का काम करते है जो हमारे कोशिकाओ को Oxidative Stress से बचाते हैं। Oxidative Stress,  free radicals के कारण होता है . (Free radicals are unstable molecule that damage or oxidize cells through out the body in a process called Oxidative stress.)

बादाम से Phenolic Acids, Flavonoids, Polyphenols निकाले जा चुके हैं।

बादाम से स्वास्थ लाभ

बादाम Plant protein, Unsaturated fatty acids, dietary fiber, tocopherols, phytosterols, और  phenolic compounds पाए जाते हैं।  7  ग्राम रोज बादाम खाने से 1 % कोलेस्ट्रॉल काम होता है। अगर आपको कोलेस्ट्रॉल से संबधित बीमारी है तो बधाई हो आपका प्राकृतिक उपचार मिल गया।  बादाम खाने से दिल की बीमारी भी दूर रहती है।  बादाम आपको कैंसर से भी बचाता है।

क्या बादाम को भिगो कर खाना जरूरी है ?

जवाब – नहीं बादाम को भिगो कर खाना जरूरी नहीं है , आप बादाम को बिना पानी में  भिगोये खा सकते हैं। आप बादाम को भुन कर खा  सकते है।  लोग बादाम को पानी में इसलिए भिगोते है ताकि वो मुलायम हो जाये और पचने में आसानी हो।  पानी में भिगोने के बाद बादाम के स्वाद में भी थोरा बदलाव आ जाता है और मीठा लगने लगता है।

क्या बादाम का छिलका उतार कर खाना चाहिए ?

बादाम का छिलका उतार कर नहीं खाना चाहिए क्यों की छिलके में Antioxidants ( एंटी ऑक्सीडेंट्स ) 70 से 100 % तक पाए जाते हैं। एंटीऑक्सिडेंट्स हमारे स्वास्थ के लिए अच्छे हैं।

बादाम का पेड़ कैसा होता है।

ये है बादाम का बगीचा

हरा बादाम

ये है हरा बादाम

और ये बादाम का फूल है। बादाम एक  तरह से कहा जाये तो बादाम के पेड़ का बीज़ है। बादाम के पेड़ पर गुलाबी और सफ़ेद रंग के फूल लगते हैं। ये पेड़ पर्वतीय क्षेत्रों में अधिक पाए जाते हैं। इनके पत्ते लम्बे बड़े और मुलायम होते हैं। बादाम दो तरह के होते हैं मीठे बादाम और कडवे बादाम। मीठे बादाम हम खाते हैं और कडवे बादाम का तेल निकला जाता है।