आज का मेरा सवाल पेड़ से सम्बंधित है| हम जानते है की अगर पेड़ है तो जंगल है, और यदि जंगल है तो हम सबका मंगल है |

मतलब पेड़ मनुष्यों का अस्तित्व है | चिलचिलाती धूप में पेड़ की ठंडी छाँव आप सब के सुखद यादों में से एक होगी | हम चाहे छुट्टियां मानने जाएँ या फिर स्कूल के मध्यान में पेड़ के नीचे बैठकर दोस्तों के साथ भोजन करना, पेड़ों से हम सदैव जुड़े रहतें है | अब बात करतें है की आप को पेड़ों के बारे में कितना पता है ?

कुछ लोग कहेंगे- पेड़ कई प्रकार के होतें है, पेड़ों से हमें हजारों तरह की औषधियां मिलती है, पेड़ों से हमें कई तरह की लकड़ियां मिलती है जिससे हम घर बनातें है , शर्दियों में ठण्ड से बचने के लिए आग जलाकर खुद को गर्म रखने के लिए…. इत्यादि | तो मै कहूंगा भाई रुकिए जरा, आपने सवाल सही से पड़ा नहीं| पेड हमारे लिए क्या – क्या करतें है इसकी फेहरिस्त बहुत लम्बी है |

मेरा सवाल था की आपको पेड़ों के बारे में कितना पता है? प्रश्न नहीं समझ आया, चलिए इसे थोड़ी आसान कर देते है | आप हमे पेड़ के बारे में इस सवाल का जबाव दीजिये – आखिर क्या वजह है की पेड़ की पत्तियां हरी होतीं है ?

तो आप में से भौतिकी प्रेमी बताएंगे क्यूंकि यह हरे रंग को परावर्तित करती है और बाकि रंगो को अवशोषित कर लेती है  इसलिए हमें हरी दिखाई देती है |पर यह इस प्रश्न का सही उत्तर नहीं है |

अब अधिक बातें घुमाये बिना आपको पत्तियों के हरे होने का वैज्ञानिक कारण बता देता हूँ |हमें पता है की पेड़ों के लिए उनकी पत्तियां वैसी है जैसे हमारे लिए हमारे हाथ| जिस प्रकार हम अपने लिए भोजन अपने हांथों से बनाते है और उसी प्रकार पत्तियां पेड़ों के लिए भोजन बनाने का काम करतीं है |

और पेड़ के इन हांथों की जादूई ताकत की बात करतें है, आप कहेंगे की इसमें जादूई वाली क्या बात | तो जादूई इस लिए क्यूंकि हम अपने हाथों को बिना चलाये अपने लिए भोजन नहीं बना सकते पर पत्तियां बिना किसी संचलन के ही भोजन बना लेतीं है |

तो ताकत यह है की पत्तियों में एक रसायन पाया जाता है जो की इनकी भोजन बनाने में सहायता करता है वह है “क्लोरोफिल” जिसका रंग हरा होता है | यही कारण है की पत्तियों का रंग हरा होता है |