फेसबुक की तरह ट्विटर भी एक सोशल मीडिया का स्त्रोत है, जो दुनिया भर के लोगों से जुड़ने में सहायक होता है तथा किसी भी विषय के बारे में जानकारी ग्रहण करने तथा व्यक्तिगत विचार व्यक्त करने में सहयोगी होता है।

जैक डॉर्सी, नोह ग्लाज़्, बिज़ स्टोन, इवान विलियम्स को ट्विटर के संस्थापक के रूप में जाना जाता है। 21 मार्च 2006 को ट्विटर की स्थापना की गई थी।

सेन फ्रांसिस्को, केलिफोर्निया, यूनाइटेड स्टेट्स में ट्विटर का मुख्यालय स्थित है।

ट्विटर पर लिखित रूप से कोई जानकारी साझा करने या पोस्ट करने की प्रक्रिया को ट्विट करना कहा जाता है।

एक ट्विट में लिखने की अधिकतम सीमा 140 वर्णों की होती है अर्थात् एक ट्विट में 140 से अधिक वर्णों का इस्तेमाल नही किया जा सकता, परन्तु ट्विट करने की सीमा निर्धारित नही है। उपयोगकर्ता अपनी इच्छानुसार कितने भी ट्विट कर सकता है।

दुनियाभर में चल रहे चर्चित विषयों की जानकारी पाने के लिए तथा उन मुद्दों पर अपने विचार प्रकट करने के लिए ट्विटर एक अच्छा माध्यम है। ट्विटर में लोगों के द्वारा किसी विशेष विषय पर ट्विट किये जाते है, जिन्हें हम ट्विटर खाता (अकाउंट) बनाये बिना भी पढ़ सकते हैं, परन्तु उस ट्विट पर अपने विचार साझा करने के लिए या सवाल-जवाब के लिए ट्विटर खाता बनाना आवश्यक होता है।

कैसे बनाये ट्विटर पर अपना अकाउंट:

ट्विटर खाता बनाने का कार्य अत्यन्त सरल है। इसके लिए मोबाईल नम्बर से ट्विटर में साइन-अप करना पड़ता है, जिससे खाता निर्माण होता है|

ट्विटर पर हम जिनको फ़ॉलो करते हैं, उन्ही के ट्विट हमारी होमस्क्रीन पर दिखाई देते हैं। इसे यूँ भी कह सकते हैं कि हम जिनके ट्विट पसन्द करते हैं तो इस देखने के लिए उन्हें ट्विटर पर फ़ॉलो करना पड़ता है। जैसे किसी सेलिब्रिटी के अद्यतन ट्विटस को देखने के लिए हमें उस सेलिब्रिटी को फ़ॉलो करना होगा।

कैसे कार्य करता है ट्विटर:

ट्विटर पर यदि हमे किसी व्यक्ति का कोई ट्विट पसन्द आ जाता है और हम उसे आगे शेयर करना चाहे तो हम उस ट्विट को दुबारा ट्विट करते हैं। इस प्रकार से ट्विटर पर किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किये गए ट्विट को दुबारा ट्विट करने की प्रक्रिया को रिट्वीट करना कहते हैं।

ट्विटर हैशटैग पद्धति पर आधारित है। ट्विटर में ट्विट करने के लिए सम्बन्धित व्यक्ति या विषय को मुख्य रूप से दिखाने के लिए आधार प्रदान करने के उद्देश्य से हैशटैग (#) का इस्तेमाल किया जाता है। इस हैशटैग के अनुसार ही उस विषय में चर्चा आगे बढ़ाई जाती है। खोजने के विकल्प का उपयोग आसान बनाने में भी हैशटैग का मुख्य योगदान है।

ट्विटर एप के कुछ विकल्प फेसबुक की तरह ही है। इस पर फोटो भी शेयर की जाती है। ट्विटर उपयोगकर्ता द्वारा किये गए ट्वीट्स व फ़ोटो को पब्लिक कर दिए जाने पर यह सभी को दिखाई देती है, परन्तु इसमें सिक्योरिटी सम्बन्धी विकल्प भी दिए होते हैं, जिससे प्रत्येक व्यक्ति द्वारा न देखे जाने की भी सुविधा होती है। इसे केवल अपने फॉलोअर्स तक सीमित रखा जा सकता है। जो लोग हमें ट्विटर पर फ़ॉलो करते हैं, उन्हें फॉलोअर्स कहा जाता है।

आज के समय में लाखों की संख्या में ट्विटर पर अकाउंट बनाये जा चुके है एवं रोजाना कई नए लोग इससे जुड़ रहे है| सोशल नेटवर्किंग ने दुनिया को जैसे आपकी मुठ्ठी में लाकर खड़ा क्र दिया है|

आप कही भी हो, अपने विचार लोगों के समक्ष रख सकते है एवं अपने रोल मॉडल के विचार भी जान सकते है| उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी, आपकी ट्वीटर को लेकर क्या सोच है ये हमसे जरुर शेयर करे एवं कमेंट बॉक्स में अपनी राय अबश्य दे|

सामान्यतः लोगों का यह मानना है कि ट्विटर का इस्तेमाल सेलिब्रिटी व बड़ी हस्तियों के द्वारा ही किया जाता है। आये दिन समाचारों में भी सुनने में मिल जाता है कि अमुक सेलिब्रिटी के द्वारा किये गए ट्विट के संबंध में  शीत युद्ध हुआ या चर्चा हुई या किसी बड़ी हस्ती द्वारा किया गया ट्विट चर्चा का विषय बना। इस वजह से आम लोगों की धारणा बन गयी कि ट्विटर केवल विशेष व्यक्तियों द्वारा उपयोग में लाई जाने वाली एप है, परन्तु यह केवल एक मिथ्या है, क्योंकि इसमें ऐसी किसी भी शर्तों का वर्णन नही किया गया है। फेसबुक की तरह ही ट्विटर एक ऐसी एप है, जो किसी भी व्यक्ति द्वारा सामान्य रूप से ट्विटर खाता बनाकर इस्तेमाल की जा सकती है।