Last updated on अप्रैल 29th, 2018 at 06:17 अपराह्न

अपघटन या डीकम्पोजीशन उस प्रक्रिया को कहा जाता है, जिसमे एकल यौगिक पदार्थ रासायनिक अभिक्रिया के कारण परिस्थितिवश दो या दो से अधिक यौगिक पदार्थो में विभक्त हो जाता है, उसे अपघटन कहा जाता है|

उदाहरण के रूप में, जब हम भोजन करते है, तो भोजन को अच्छे से पचाने के लिए अपघटन के द्वारा अनेक भागो में तोडा जाता है, जैसे वसा, कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन आदि अलग हो जाते है, किन्तु बाद में संयुक्त होकर हमारे शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करते है|

अपघटन के प्रकार:

अपघटन अभिक्रिया को तीन भागो में विभक्त किया गया है:-

तापीय अपघटन:

तापीय अपघटन के अंतर्गत जब किसी सरल पदार्थ को ताप द्वारा गर्म किया जाता है, तो वह सरल पदार्थ दो या दो से ज्यादा भागों में विभक्त हो जाता है| पदार्थ को तोड़ने के लिए ही तापीय अपघटन की अभिक्रिया आवश्यक होती है|

जैसे: कैल्शियम कार्बोनेट को ताप द्वारा तोडकर कैल्शियम आक्साइड में परिवर्तित किया जाता है|

विद्युत् अपघटन:

इलेक्ट्रोलाइट्स विद्युत् अपघटन अभिक्रिया का अच्छा उदाहरण है| इस अपघटन अभिक्रिया के अंतर्गत विद्युत् की धारा को पानी के विलयन के साथ प्रवाहित किया जाता है|

प्रकाश अपघटन:

इस अपघटन अभिक्रिया के अनुसार, जब कोई पदार्थ सूर्य के प्रकाश के सम्पर्क में आता है, तो उसका विभाजन हो जाता है|

जैसे: सिल्वर क्लोराइड को यदि चीनी के बर्तन में सूर्य के सीधे सम्पर्क में रखा जाये, तो उसका रंग धूसर हो जाता है| सूर्य के प्रकाश के कारण सिल्वर क्लोराइड दो टुकडो क्लोरिन एवं सिल्वर में टूट जाता है|